लकवा कितने दिन में ठीक होता है? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

Language



Blog

sahil sharma

| Posted on | Health-beauty


लकवा कितने दिन में ठीक होता है?


20
0




| Posted on


आप जानना चाहते हैं कि लकवा कितने दिन में ठीक हो सकता है तो चलिए हम आपको इसकी जानकारी देते हैं। लकवा जिसे स्ट्रोक कहते हैं यह एक ऐसी बीमारी होती है जिसमें मरीज का मुंह तिरछा हो जाता है। हाथ बेजान हो जाते हैं,जुबान लड़खड़ाने लगती है, या फिर आवाज पूरी तरह चली जाती है। ऐसा होने पर यदि समय रहते इलाज न मिल पाए तो परिणाम घातक हो सकता है। इसलिए समय रहते ही इसका इलाज करवा लेना चाहिए।

शुरुआती 4 घंटे हैं सबसे अहम :-

सिविल अस्पताल के वरिष्ठ फिजीशियन नवीन कुमार बताते हैं अगर लकवा को शुरुआत में ही पहचान कर इलाज दे दिया जाए तो। लकवा से प्रभावित लोग सामान्य जीवन जी सकते हैं। यानी कि शुरुआती 4:30 घंटे में इलाज शुरू हो जाए तो बड़े नुकसान से बचा जा सकता है। क्योंकि जितनी जल्दी प्लॉट खत्म करने की दवा दे दी जाएगी उतना ही बेहतर परिणाम मिलेगा।

चलिए हम आपको बताते हैं कि लकवे का इलाज क्या है:-

यदि आप नियमित रूप से व्यायाम करते हैं तो लकवा से बचा जा सकता है। इसके अलावा जो लोग इसकी चपेट में आ चुके हैं उन्हें फिजियोथेरेपी के साथ-साथ धीरे-धीरे से अनुलोम विलोम एवं गर्दन और कंधे के हल्के व्यायाम करने से लाभ होता है

तुलसी और दही का मिश्रण काम आ सकता है लकवा ठीक करने के लिए :-

जैसा कि आप सभी जानते हैं कि तुलसी स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभकारी होती है ऐसे में लकवा को ठीक करने के लिए तुलसी के पत्ते,दही और सेंधा नमक को बराबर मात्रा में मिलाय। और एक तरह का लेप तैयार करें। इसके बाद इस लेप को आप लगवा ग्रसित अंग पर लगे और मालिश करें। ऐसा करने से आपको लकवा में बहुत आराम मिलेगा।

इस प्रकार लकवा से ग्रसित मरीजों के लिए बहुत से घरेलू उपचार हैं।

Letsdiskuss


9
0

Blogger | Posted on


दोस्तो, आपने सुना होगा किसी को लकवा मार गया। परिवार में या आस पड़ोस में। लेकिन यह लकवा होता क्या है। लकवा कों पैरालायसिस भी कहा जाता है। इस स्थिति में शरीर के किसी भी एक हिस्से की मासपेशियाँ काम करना बंद कर देती है। लकवा एक ऐसी बीमारी में जिसमे पहले से कुछ भी पता नही चलता। यह एक दम से होती हैं।

लकवा में अचानक ब्रेन के किसी हिस्से में डेमेज हो मतलब खून का सरकूलेशन डेमेज हो जाए तब लकवा जैसी स्थिति बन जाती है और लकवा आ जाता है।

इस स्थिति में शरीर का एक हिस्सा जैसे एक हाथ या एक पाव काफी ज्यादा कमजोर हो जाते है।

लकवा होने के कारण -

लकवा दो कारणो की वजह से होता है

1 - ब्रेन हेम्ब्रेज यानी ब्रेन में जाने वाली ब्लड पाइप का फट जाना।

2 - ब्लड पाइप ब्लॉक हो जाना।

लकवा का मुख्य कारण ब्लड पाइप का ब्लॉक होना होता है। 85% लोगो को लकवा ब्लड पाइप ब्लॉक की वजह से लकवा आता है और 15% लोगो को ब्रेन हेम्ब्रेज की वजह से लकवा आता है।

लकवे के कोई संकेत नही होते है यह अचानक आता हैं। इससे संभलने का वक्त नही मिलता है।

लकवा कितने दिनों में ठीक होता है -

लकवा में रिकवरी पूरी तरह से मरीज और उसके देखभाल करने वाले के ऊपर निर्भर करती हैं।

लकवे के मरीज को स्ट्रांग होना चाहिए खुद को ठीक करने के लिए। डॉक्टर के अनुसार लकवा 2 से 3 दिन में ठीक होना शुरू हो जाता है। और लगभग 6 महिनो में मरीज काफी हद तक ठीक हो जाता है। 1 या 2 साल मे लकवे का मरीज पूरी तरह ठीक हो जाता हैं।

लकवे के मरीज की देखभाल -

  • मरीज को रोज धीरे धीरे एक्सरसाइज करवाना चाहिए।
  • मरीज की पोजिशन चेंज करते रहना चाहिए। उसे करवट दिलवाते रहना चाहिए।
  • पौष्टिक खाना दे। विटामिन और मिनल्स का ध्यान दे।
  • छोटी छोटी एक्टिविटिज करवाये जिससे ब्लड सरकुलेश चलने लगे।
  • मरीज को मोटिवेट करते रहे उसके साथ समय बिताए।

Letsdiskuss


7
0

| Posted on


चलिए जानते हैं कि लकवा कितने दिनों में ठीक हो जाता है और यह बीमारी क्यों होती है इसका कारण भी जानते हैं:-

ब्रेन में खून का थक्का जमने के कारण लकवा की शिकायत होती है। एक्सपर्ट्स बताते हैं कि लकवा आने के 2 से 3 दिन में पेशेंट में सुधार हो जाता है। तो 6 महीने के अंदर रिकवरी आना शुरू हो जाती है। और फिर डेढ़ साल में पूरी तरह से रिकवरी आ जाती है। इस पीरियड के बाद रिकवरी आने की संभावना खत्म हो जाती है। और यदि पेशेंट की घर पर देखभाल ठीक तरह से की जाए तो पॉजिटिविटी रिजल्ट आना संभव है।

चलिए मैं आपको बताती हूं कि लकवा का सबसे अच्छा इलाज क्या है:-

  • गीली मिट्टी का लेप लगाना पैरालिसिस के लिए बहुत ही ज्यादा लाभकारी होता है।
  • इसके अलावा लकवा से ग्रसित अंगों में तेल लगाने के लिए आपको एक तरह का तेल तैयार करना होगा और फिर उससे मालिश करने पर लगवा से काफी हद तक आराम मिलता है।
  • पैरालिसिस में करेला खाना बहुत ही ज्यादा फायदेमंद होता है।

चलिए मैं आपको बताती हूं कि लकवा किसकी कमी से होता है:-

दोस्तों विटामिन बी की कमी से लकवा की बीमारी होती है। आरबीसी में ही हीमोग्लोबिन मौजूद होता है। हिमोग्लोबिन ही लंग्स से ऑक्सीजन को पड़कर शरीर के प्रत्येक अंग तक पहुंचाते हैं। ऑक्सीजन की आपूर्ति कम होने से नसों तक भी ऑक्सीजन नहीं पहुंचता है जिसके कारण नसे कमजोर होने लगती है और विटामिन बी12 की शरीर में कमी हो जाती है।

चलिए जानते हैं कि लकवा होने का मुख्य कारण क्या है:-

लकवा के लिए आमतौर पर दो कारण माने जाते हैं। जिनमें से पहले कारण है ब्रेन हैंम्ब्रेज यानी की ब्रेन में जाने वाली ब्लड की पाइप फट जाना, और दूसरा कारण है इस ब्लड पाइप में कोई ना कोई ब्लॉक हो जाना। ज्यादातर केस पाइप ब्लॉक होने वाले ही शिकायत आते हैं।

Letsdiskuss


3
0