भारत के 5 प्रसिद्ध नास्तिक कौन हैं? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

Language



Blog

A

Anonymous

Student ( Makhan Lal Chaturvedi University ,Bhopal) | Posted on | Entertainment


भारत के 5 प्रसिद्ध नास्तिक कौन हैं?


0
0




Content writer | Posted on


आम भाषा का इस्तेमाल कर अगर कहा जाये तो नास्तिक का अर्थ होता है नास्तिकता अथवा नास्तिकवाद या अनीश्वरवाद (Atheism) वह सिद्धांत है जो जगत् की सृष्टि करने वाले, इसका संचालन और नियंत्रण करनेवाले किसी भी ईश्वर के अस्तित्व को सर्वमान्य प्रमाण के न होने के आधार पर स्वीकार नहीं करता।जो यह नहीं मानंता की कोई असीम शक्ति दुनिया का संचालन कर रही है।वह व्यक्ति किसी भी परम शक्ति या भगवान् में भरोषा नहीं करता है उसे नास्तिक कहा जाता है।भगत सिंह, पी चिदंबरम, अमर्त्य सेन जैसे नास्तिकों के बारे में आप जानते होंगे लेकिन हम आपको कुछ नये स्वघोषित नास्तिकों के बारे में बताते हैं।

इस लिस्ट में सबसे पहला नाम जान अब्राहम है जिनके बारे में मात्र 4 वर्ष की उम्र से ही इनके पिता ने कह दिया था कि तुम्हे अच्छा इंसान बनने के लिए धार्मिक स्थलों पर जाने की जरूरत नही है, तभी से ये किसी तरह के धार्मिक मान्यताओं से दूर रहते हैं और खुद को नास्तिक मानते है।


इस लिस्ट में दूसरा नाम साउथ के सुपर स्टार कमल हसन है जिन्होनें टाइम्स ऑफ इंडिया को दिये गये इंटरव्यू में यह बात स्वीकार किया है कि इन्हें किसी भी धर्म में रुचि नहीं है।


इसके अलावा रजत कपूर का भी यही मानना है कि भगवान वाली धारणा इंसानों द्वारा बनाई गई है। और धर्म को मानव सभ्यता के लिए हानिकारक मानते हैं।मगर मैं ऐसे अंधविश्वास में भरोशा नहीं करता।




Letsdiskuss


इस लिस्ट में एक नाम बॉलीवुड के मशहूर डायरेक्टर राम गोपाल वर्मा का भी है भले ही वह भूत, वास्तु शास्त्र जैसी फिल्में बनाते हैं लेकिन ये भी पूरी तरह नास्तिक हैं, उन्होनें कई बार अपने इंटरव्यू के दौरान बताया वह इन सभी बातों में भरोशा नहीं करते है।


इसके आलावा अनुराग कश्यप फिल्म निर्माता भी नास्तिकों की श्रेणी में आते हैं और आये दिन ट्विटर पर हिन्दू धर्म के खिलाफ टिप्पणी करते हैं।जिससे साफ़ झलकता है के वह किस सोच को रखते है ।






0
0

Picture of the author