भारत को उपमहाद्वीप क्यों कहते हैं? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

Language



Blog

A

Anonymous

Blogger | Posted on | others


भारत को उपमहाद्वीप क्यों कहते हैं?


0
0




Blogger | Posted on


भूगोल में हर स्थल का एक स्वरूप नियत किया जाता है जो की उसकी पहचान होती है। अपने भूस्वरूप को देखते हुए हर स्थल को भौगोलिक भाषा में अलग अलग स्वरुप में देखा जाता है। जिस स्थल के एक और जमीन और बाकी तीन और पानी हो उसे महाद्वीप कहा जाता है। अगर भारत के भौगोलिक स्थान को देखा जाए तो इसके तीन और जल सीमा और एक और जमीन सीमा है इस लिए उसे महाद्वीप कहा जाना उचित हो सकता है।
Letsdiskuss सौजन्य; quora
उपमहाद्वीप उस स्थान को कहा जाता है की जिस की तीन और जमीन हो एक और पानी हो पर वो महाद्वीप से विस्तार के नजरिये से छोटा हो। भारत का भौगोलिक स्थान इस व्याख्या में फिट बैठता है। विविध देशो के भारत से अलग होने की वजह से इस की सीमाए मर्यादित है और वो महाद्वीप नहीं कहा जा सकता। ऐसी स्थिति में भूगोलशास्त्री उसे महाद्वीप कहते है जो की भारत के लिए पूर्ण रूप से योग्य है। इस क्षेत्र में सांस्कृतिक वैविध्य, और जीव वैविध्य एवं भूगोलीय वैविध्य देखा जा सकता है जिस के चलते उसे उपमहाद्वीप कहना पूर्णत: उचित है। अगर बाकी के देश जैसे की भूटान, नेपाल, श्री लंका, बांग्लादेश और मालदीव्स अगर भारत में होते तो उसे सिर्फ महाद्वीप कहा जा सकता था।  


0
0

Picture of the author