क्या किसी लड़की की वर्जिनिटी के बारे में पूछना गलत है? वर्जिनिटी से आखिर क्या फर्क पड़ता है? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

Language



Blog

A

Anonymous

Blogger | Posted on | Education


क्या किसी लड़की की वर्जिनिटी के बारे में पूछना गलत है? वर्जिनिटी से आखिर क्या फर्क पड़ता है?


0
0




Student | Posted on


  1. किसी लड़की की वर्जिनिटी के बारे में प्रश्न पूछना समाज के लिए एक कलंक है। ये प्रश्न किसी के द्वारा कभी भी किसी लड़की से नहीं पूछा जाना चाहिए। हमारे देश की लड़किया आज दुनियाँ मे हमारे देश का नाम ऊंचा कर रही है। इंसान अपने चरित्र की वजह से हमेशा जाना जाता है इसलिए लड़कियों के चरित्र का आकलन कभी भी उनकी वर्जिनिटी के आधार पर नहीं करना चाहिए। बहुत सी स्पोर्ट्स एक्टिविटी ऐसी होती है जिनमे लड़कियों की वर्जिनिटी टूट जाती है परन्तु इसका ये अर्थ नहीं की वो चरित्र से अच्छी नहीं है। Letsdiskuss


0
0

| Posted on


आज के आधुनिक युग में जहां इंसान एक ओर मंगल ग्रह तक पहुंच गया है वहीं अभी भी समाज में ऐसी कुरीतियां हैं जो मानव का विकास नहीं होने दे रही है। अभी भी समाज में कुछ लोग कुरीतियों को ही सही मानते हैं और इन्हीं के अनुसार अपना जीवन जीते हैं। इन कुरीतियों में छुआछूत जात पात धर्मवाद व वर्जिनिटी का मुद्दा आदि शामिल है। और इन कुरीतियों के शिकार हुए लोगों की खबरें अक्सर अखबार में मिल जाती है।
 
 
 लड़कियों की वर्जिनिटी यह समाज में एक ऐसा विषय बन गया है कि समाज के लोगों ने इस विषय पर अपनी अलग ही राय बना ली है। वर्जिनिटी के संबंध में समाज के लोग लड़कियों पर अलग- अलग टिप्पणी करते हैं। समाज के कुछ लोगों द्वारा किसी लड़की के चरित्र का आधार उसकी वर्जिनिटी को माना जाता है। यह बात बिल्कुल ही बकवास लगती है परंतु यह सच्चाई है। इस बारे में सोच कर यह अफसोस होता है कि समाज में कुछ लोग लड़कियों की वर्जिनिटी के संबंध में किस प्रकार की गलत मानसिकता बना लेते हैं। और उनके चरित्र को पहचानने का आधार वर्जिनिटी को बता देते है परंतु यह गलत है।
 
 
 आपकी जानकारी के लिए बता दें कि लड़कियों के प्राइवेट पार्ट मे लगभग एक-दो सेंटीमीटर की झिल्ली की संरचना होती है। जो काफ़ी कोमल होती है इसे आधुनिक विज्ञान की भाषा में ‘हाइमन’ कहते हैं। इसका रंग हल्का गुलाबी सा होता है। इसके बहुत कोमल होने के कारण यह टूट जाती है। परंतु उसके टूटने का कारण यौन संबंध नहीं होते अपितु बहुत सी लड़कियां कई प्रकार के स्पोर्ट्स में हिस्सा लेती हैं जैसे क्रिकेट फुटबॉल वॉलीबॉल साइकिलिंग या और कोई स्पोर्ट्स। इन स्पोर्ट्स में बहुत सी फिजिकल एक्सरसाइज करनी होती है जिस वजह से ‘हाइमन’ फट या टूट जाता है। इसके अतिरिक्त अन्य फिजिकल एक्सरसाइज जिम की वजह से भी वी हाइमन’ फट या टूट जाता है।
 
 
 तो यह कहा जा सकता है कि किसी भी लड़की के चरित्र को जानने के लिए उससे उसकी वर्जिनिटी से संबंधित सवाल कभी नहीं पूछना चाहिए। ऐसा बेहूदा सवाल पूछ कर मानवता पर एक कलंक लगेगा।
 

Letsdiskuss


0
0

Picture of the author