मानव जीवन में खुश रहना चाहते हैं तो कौन सी आदतें खुद से दूर करना होगा ? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

Language



Blog

A

Anonymous

Fitness trainer,Fitness Academy | Posted on | others


मानव जीवन में खुश रहना चाहते हैं तो कौन सी आदतें खुद से दूर करना होगा ?


0
0




Content Coordinator | Posted on


वर्तमान समय में लोग जहां इतना व्यस्त रहते हैं, वहीं लोगों के पास इतना समय नहीं कि वो अपने लिए थोड़ा सा समय निकाल लें | लोग इतना काम करते हैं, अपनी जरूरतें पूरी करने के लिए , और वो अपनी जरूरत का हर समान खरीद लेते हैं, पर फिर भी वह अपने जीवन में ख़ुशी नहीं खरीद पाते |


Letsdiskuss (courtesy-Fortune)


अगर आप अपने जीवन में ख़ुशी चाहते हैं तो आपको अपने जीवन से कुछ आदतों को दूर करना होगा जिससे आप अपने जीवन में ख़ुशी पा सकते हैं |


- तुलना न करें :-
अगर आप अपने जीवन में खुश रहना चाहते हैं , तो इसके लिए सबसे पहले आपको तुलना करने की आदत को छोड़ना होगा | हर व्यक्ति अपनी मेहनत और अपनी लगन से सफल होता है, अगर आप किसी को सफल होता हुआ देखते हैं और हम ये सोचते हैं कि हम इसकी तरह सफल नहीं हो पाएंगे तो ये सोचना हमारे जीवन की सबसे बड़ी हार का कारण बनता है | इसलिए किसी से अपनी तुलना न करें बल्कि उसकी मेहनत और लगन पर ध्यान दें और साथ ही उतनी मेहनत आप करें तो आप खुश रहेंगे |


- कभी बहाना न बनाएं :-
अक्सर हम किसी भी काम को करने के लिए आलस कर जाते हैं जिसे कारण हम बहाने बनाने लगते हैं | अगर आप अपनी ज़िंदगी में बहाने बनाने की आदत को खत्म कर लें तो आप अपने जीवन में सफल होंगे और साथ ही खुश रहेंगे |


- अतीत को भूलकर जिए :-
कुछ लोग अपने अतीत की बातों को जल्दी नहीं भुला पाते और ऐसे लोगो अक्सर दुखी रहते हैं | अगर आप अपने जीवन में खुश रहना चाहते हैं तो अपने जीवन में ऐसी बातों को भूल जाएं जो आपको हमेशा दुखी करती हों या जिसकी वजह से आप हमेशा गिल्ट में रहते हों | अगर आप ऐसी बातों को भूल जाएंगे तो आप अपने जीवन में सुखी रहेंगे |


- शिकायत न रखें :-
अक्सर लोग एक दूसरे से कुछ शिकायत रखते हैं और जिसके कारण वह न तो खुद खुश रहते हैं और न ही उनके आस पास रहने वाले लोग खुश रहते हैं | अपनी ज़िंदगी में कभी किसी से कोई शिकायत न रखें तो आप हमेशा खुश रहोगे |
यह कुछ आदतें आप अगर छोड़ दें तो आप अपने जीवन में खुश रहेंगे |



0
0

Picture of the author