क्या यह सच है कि कॉलेज हॉस्टल में रहने वाली लड़कियां एडल्ड फिल्मों की शौकिन होती हैं? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

Language



Blog
Earn With Us

A

Anonymous

Marketing Manager | Posted on | others


क्या यह सच है कि कॉलेज हॉस्टल में रहने वाली लड़कियां एडल्ड फिल्मों की शौकिन होती हैं?


8
0




Occupation | Posted on


कॉलेज हॉस्टल मे रहने वाली लड़कियां अक्सर रूम पर अकेली रहती है और फ्री टाइम मे वह बोर हो जाती है तो ऐसे मे हॉस्टल रहने वाली लड़कियां ज्यादातर सोशल मिडिया मेएक्टिव रहती और एडल्ट मूवी देखने लगती है और ख़ुद को अकेलापन महसूस करती है और अपनी फीलिंग्स किसी के साथ शेयर करने थोड़ा शर्माती है जिस कारण से वह मोबाइल, लपटॉप मे एडल्ड फ़िल्म देख कर अपनी फीलंग्स और अकेलापन दूर कर लेती है, धीरे -धीरे हॉस्टल रहने वाली लड़कियां को एडल्ड फ़िल्म देखने की बहुत ज्यादा लत लग जाती है और वह गलत चीजों मे पड़ जाती है।

Letsdiskuss


4
0

| Posted on


अक्सर लड़कियां बाहर पढ़ाई करने जाती हैं। तो वह हॉस्टल या रूम लेकर ही रहते हैं। वहां पर वह फ्री टाइम पर मोबाइल लैपटॉप का यूज़ ज्यादातर करती है। सोशल मीडिया पर एक्टिव रहती है। जरूरी नहीं है कि सब लड़कियां जो हॉस्टल या रूम में रहती हैं वह एडल्ट फिल्मों के शौकीन रहती है। कुछ लड़कियां होती हैं जिन्हें यह सब ज्यादा पसंद होता है वह अपना अकेलापन दूर करने के लिए एडल्ट फिल्मों की शौकीन हो जाती हैं और धीरे-धीरे उन्हें इसकी लत लग जाती है। और वह अपने लक्ष्य से दूर होती जाती हैं।Letsdiskuss


4
0

| Posted on


आज के समय में एडल्ट फिल्म देखना आम बात हो गई है । क्योंकि जिस तरह से वेब सीरीज या और भी फिल्में आ रही है कहीं न कहीं यह उसका ही बदला हुआ रूप है ।अगर हॉस्टल में रहने वाली लड़कियों की बात किया जाए तो ऐसा हो सकता है उन्हे एडल्ट फिल्में अच्छी लगती है । लेकिन यह बात सभी लड़की पर निर्भर नही करती कुछ लड़कियों है, जिन्हे ऐसे फिल्म देखना अच्छा लग सकता है ।

Letsdiskuss

वहीं अगर हम बात करें एडल्ट फिल्में देखने वाली लड़कियों की तो कहीं न कहीं यह उनकी परवरिश पर भी निर्भर करता है । अगर घर की परवरिश अच्छी है तो लडकियां ऐसा नही करती है । सबसे बड़ी बात यह भी है कि हॉस्टल का माहौल कैसा है , वहां के लोग कैसे है ,

गांव में एक कहावत है संगत से गुण होत है , संगत से गुण जाए । मतलब अगर आपके आस पास माहौल अच्छा है तो आप इन सभी चीजों से दूर रहेंगे अगर माहौल खराब है तो इस सब में लिप्त हो जाएंगे । वहीं आज की जनरेशन इतनी एडवांस हो गई है कि उन्हें अब तो अपने घर वालों के सामने भी गंदी फिल्म देखने पर शर्म नहीं आती । हॉस्टल में रहने वाली लड़कियों इसलिए भी इन सब चीजों की आदि हो जाति है क्योंकि ,वहां उन्हे कोई रोकने , टोकने वाला कोई भी होता ।

और पढ़े- एक इंजीनियर या किसी भी छात्र की हॉस्टल लाइफ कैसी होती है?


3
0

| Posted on


जी हाँ बिलकुल सच है कि कॉलेज हॉस्टल मे रहने वाली लड़कियां एडल्ड फिल्मों की शौकिन होती हैं, क्योंकि हॉस्टल मे लड़कियां-लड़कियां रुम रहती है और वह अपने घरवालों से दूर रहती है अपने मन की मालिक होती है ऐसे मे वह कुछ भी करे उन्हें रोकने -टोकने वाला कोई नहीं होता है। हॉस्टल मे लड़कियां रुम मे अकेले रहती है और वह अकेलापन दूर करने के लिए लैपटॉप मे एडल्ड फिल्मे देखकर अपने आपको संतुष्ट करती है क्योंकि उनके पास कोई पार्टनर नहीं होता है।

Letsdiskuss


3
0

| Posted on


आप जानना चाहते हैं कि क्या सच में कॉलेज हॉस्टल में रहने वाली लड़कियां एडल्ट फिल्म की शौकीन होती है तो चलिए हम आपको इस आर्टिकल में इसकी पूरी जानकारी देते हैं। मैं आपकी जानकारी के लिए बता दूं कि कॉलेज हॉस्टल में रहने वाली सभी लड़कियां एडल्ट फिल्म की शौकीन नहीं होती है। हां लेकिन कुछ ऐसी लड़कियां होती है जो एडल्ट फिल्म देखने की शौकीन होती है। क्योंकि बहुत सी लड़कियां जिनके पास से बॉयफ्रेंड नहीं होते हैं तो खुद को संतुष्ट करने के लिए एडल्ट फिल्म का सहारा लेती है। जब कॉलेज हॉस्टल के रूम में ज्यादा लड़कियां नहीं रहती है तो मौका पाकर लड़कियां अपना लैपटॉप खोलती है और फिर एडल्ट फिल्म देखना शुरू कर देती हैं। क्योंकि यहां पर उनके घर वाले नहीं होते हैं और कोई भी रोक-टोक करने वाला नहीं होता है।

Letsdiskuss


2
0