ज्योतिष शास्त्र के अनुसार हम रुद्राक्ष का चुनाव किस आधार पर करते हैं ? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

Language



Blog

Rohit Valiyan

Cashier ( Kotak Mahindra Bank ) | Posted on | Astrology


ज्योतिष शास्त्र के अनुसार हम रुद्राक्ष का चुनाव किस आधार पर करते हैं ?


0
0




Astrologer,Shiv shakti Jyotish Kendra | Posted on


आपका सवाल बहुत ही अच्छा हैं, आप जानना चाहते हैं, कि रुद्राक्ष का चुनाव किस प्रकार किया जायें ? उससे पहले आपको बताते हैं, कि रुद्राक्ष क्या हैं, और इसका मानव जीवन में क्या प्रभाव हैं -


रुद्राक्ष एक ऐसे फल की गुठली हैं, जिसका उपयोग आध्यात्मिक क्षेत्र में किया जाता हैं | प्राचीन समय में ऐसा माना जाता था, कि रुद्राक्ष की उत्पत्ति भगवान शिव की आँखों के जलबिंदु से हुई हैं, और इसे पहनने से सकारात्मक ऊर्जा मिलती हैं | साधारण शब्दों में कहा जायें तो "रुद्राक्ष शिव जी का वरदान हैं, जो संसार के सभी दु:खों को दूर करने के लिए भगवान् शिव ने प्रकट किया था "

आपको बता दें, कि रुद्राक्ष का चुनाव अपनी राशि के अनुसार या आपके काम के हिसाब से होता हैं | रुद्राक्ष के कई प्रकार होते हैं, रुद्राक्ष एक मुखी से 14 मुखी तक होते हैं | जिसका चुनाव आपकी राशि,ग्रहों की स्थिति और आपके कार्य के अनुसार होता हैं |

राशि के आधार पर चुनाव :-

- मेष राशि -
मेष राशि वालों को 14 मुखी रुद्राक्ष धारण करना चाहिए | 14 मुखी रुद्राक्ष में हनुमान जी का अंश माना जाता हैं, जो कि बल,बुद्धि ओर प्रतिष्ठा प्रदान करता हैं |

- वृष राशि -
वृष राशि वालों को तेरहमुखी रुद्राक्ष धारण करना चाहिए। इस रुद्राक्ष में भगवान इंद्र का स्वरूप स्थापित होता हैं, जो भौतिक सुख सुविधा के साथ-साथ स्वस्थ जीवन का लाभ प्रदान करता हैं |

- मिथुन राशि -
मिथुन राशि वालों को दशमुखी रुद्राक्ष पहनना चाहिए | इसमें भगवान् विष्णु का स्वरुप माना गया हैं। यह बुद्धि,विद्या,धन और संपत्ति का लाभ प्रदान करता हैं |

-कर्क राशि -
कर्क राशि वालों को पांचमुखी रुद्राक्ष पहनना चाहिए | इसको मुख्य रूप से मानसिक शांति के तौर पर पहना जाता हैं |

- सिंह राशि -
सिंह राशि वालों को बारहमुखी रुद्राक्ष पहनना चाहिए | इस रुद्राक्ष को पहनने से जीवन से रोग दूर रहते हैं,लंबी आयु और मान-प्रतिष्ठा की प्राप्ति होती हैं |

- कन्या राशि -
कन्या राशि वालों को दशमुखी रुद्राक्ष पहनना चाहिए। इस रुद्राक्ष में भी विष्णु का अंश माना गया हैं | जिन राशि का स्वामी बुध होता हैं, ऐसी राशि के लोग इस रुद्राक्ष को पहनकर बुद्धि, विद्या, धन, संपत्ति से संबंधित लाभ प्राप्त कर सकते हैं |

- तुला राशि -
तुला राशि के लोग तेरह मुखी रुद्राक्ष पहने | इसमें इन्द्र का स्वरूप माना गया हैं | इस रुद्राक्ष से रोगों से दूर रह कर, स्वस्थ जीवन यापन करते हैं |

- वृश्चिक राशि -
आपकी राशि अगर वृश्चिक हैं, तो आपको चौदहमुखी रुद्राक्ष पहनना चाहिए। यह रुद्राक्ष अपने अंदर हनुमान जी का स्वरूप समायें हुए होता हैं, ओर इस रुद्राक्ष को धारण करने से बल, बुद्धि, धन और प्रतिष्ठा हासिल होती हैं |

- धनु राशि -
धनु राशि के लोगों को चार मुखी रुद्राक्ष धारण करना चाहिए। इस रुद्राक्ष में ब्रह्माजी का अंश माना जाता हैं ।

- मकर राशि -
इस राशि वाले लोगों को सातमुखी रुद्राक्ष पहनना चाहिए। शास्त्रों के अनुसार सातमुखी रुद्राक्ष को अनंत देव का रूप माना गया हैं | इस रुद्राक्ष को धारण करने से जीवन में धन-वैभव का लाभ प्राप्त होता हैं |

- कुंभ राशि -
इस राशि वाले लोग नौमुखी रुद्राक्ष पहन सकते हैं। यह रुद्राक्ष को महाभैरव का स्वरूप होता हैं । नौमुखी रुद्राक्ष को पहनने से स्वास्थ्य, धन, वैभव और सर्वत्र लाभ की प्राप्ति होती हैं |

- मीन राशि -
इस राशि वालों को चार मुखी रुद्राक्ष पहनने की सलाह दी जाती हैं। इस रुद्राक्ष में ब्रह्माजी का स्वरूप माना जाता हैं |

- एक मुखी रुद्राक्ष -
ये सभी राशियों के व्यक्ति धरण कर सकते हैं। इसे साक्षात महादेव का स्वरूप माना जाता हैं । शास्त्रों में ऐसा कहा जाता हैं, कि जो मनुष्य इस रुद्राक्ष को धारण करता हैं, उसके सारे काम बनते हैं।

Letsdiskuss


0
0

Picture of the author