क्या Kindle वरदान है या अभिशाप ? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

Language



Blog

Amayra Badoni

Student (Delhi University) | Posted on | Science-Technology


क्या Kindle वरदान है या अभिशाप ?


0
0




Optician | Posted on


मेरा मानना है की kindle किताबों से अधिक फायदेमंद होते है | आप जब और जहाँ चाहे अपनी मनपसंद किताब पढ़ सकते हैं | आपको ढेर सारी किताबो का बोझा ढोकर नहीं घूमना पड़ता | जब मुझे अपने 16 वे जन्मदिन पर Kindle उपहार में मिला था तो यकीनन मै उसके इस्तेमाल से वंचित था, परन्तु अब ऐसा नहीं है | मै अक्सर अपने बैग में kindle लेकर सफर करता हूँ | कभी मेट्रो में तो कभी क्लासरूम में, मै kindle में किताबे व मैगज़ीन पढ़ता हूँ |


Letsdiskuss


Kindle के कटने फटने का कोई डर नहीं होता | यह आपके घर में या बैग में ज्यादा जगह नहीं घेरता | Kindle को चार्ज करना बहुत आसान है और सबसे अच्छी बात कि यह आपको इलेक्ट्रिक डिवाइस जैसा बिलकुल नहीं लगेगा | Kindle में एक खूबी यह भी है कि यह आपकी आँखों पर प्रभाव नहीं डालता और आप इसे बिलकुल वैसे इस्तेमाल कर सकते हैं जैसे कि आप अपनी किताब को करते हैं |  


Kindle से आप एक बार में हज़ारों किताबे अपने साथ लेकर घूम सकते हैं, जब जो मूड हुआ, खोली और पढ़ ली | यह किसी भी तरह से उलझाने वाली चीज़ नहीं है, बस खोलो और जहाँ पढ़ना खत्म किया था वहीं से शुरू कर लो | सबसे अच्छी बात है इसकी वन टाइम इन्वेस्टमेंट | मतलब एक बार खरीदो और हमेशा इस्तेमाल करो | यह किताबो कि तरह पैसो पर पैसे खर्च नहीं करवाता बल्कि सस्ते दामों पर आप इसमें किताबे डाउनलोड कर सकते हैं |

मुझे तो kindle से पूर्ण रूप से प्रेम है, मेरे लिए यह किसी वरदान से कम नहीं है |


0
0

Engineer,IBM | Posted on


Kindle 2007 में लांच हुआ था जिसके लांच के 5 बाद ही उसकी पहली बिकरी हो गयी थी और 2008 आने से 6 महीने पहले तक Kindle आउट ऑफ़ स्टॉक रहा था | Kindle , Amazon द्वारा जारी किया गया यन्त्र है जिसमे आप e -book पद सकते हैं | Kindle आपको एक ही यन्त्र में हज़ारो किताबे, मैगज़ीन, अखबार आदि पढ़ने को मिल जाती हैं | Kindle का इस्तेमाल हज़ारो लोगो द्वारा किया जा रहा है, परन्तु इनके इस्तेमाल से हार्ड कॉपी अर्थात पन्नो पर छपने वाली किताबों और पत्रिकाओं के इस्तेमाल में कमी भी देखने को मिलती है | क्या Kindle सचमुच एक वरदान है, या यह एक अभिशाप से ज़्यादा कुछ नहीं है ?


Kindle वरदान के रूप में 


  • आप Kindle को जहाँ चाहे वहाँ लेकर जा सकते हैं, यह यात्रा के लिए आपका सबसे अच्छा साथी है और जगह भी कम घेरता है |
  • इसमें आपको ढेरो किताबे बिलकुल मुफ्त मिल जाती है |
  • इसमें ऐसी भी कई किताबे हैं जो आपको बहुत कम दामों में मिलती है, साथ ही कई दुर्लभ किताबें भी आप इसमें पा सकते हैं |
  • आप किसी भी शब्द पर क्लिक करके उसका मतलब समझ सकते है, ये असल में आपके दिमाग के शब्दकोश को बढ़ता है |
  • आप इसमें गेम खेल सकते है साथ ही गाने भी सुन सकते है |
  • आप इसमें font size बढ़ा या छोटा कर सकते हैं |
  • यह एक किताब की तरह ही है, तो इससे आपकी आँखों को नुक्सान नहीं पहुंचेगा परन्तु यह अँधेरे में भी दिखाई देगा|
  • सबसे महत्वपूर्ण आप ढेर सारे पेड़ बचाते है |

    Kindle अभिशाप के रूप में


    • आप इसमें किताबो के पन्नो की तरह पृष्ठ नहीं बदल सकते न ही आप इसे अपने बुक शेल्फ में रख सकते हैं |
    • आप इसमें किसी किताब की कॉपी अपने दोस्त को भेज सकते है परन्तु अधिक समय के लिए नहीं |
    • आप अपने बाथ टब में लेजाकर नहीं पढ़ सकते क्योंकि एक झटका और आपका Kindle पानी में इसमें आपको SB card नहीं मिलता, मतलब मान लीजिये आप इसमें 1500 किताबे रखने की जगह है, परन्तु आप 1501 रखना चाहें तो ? आपको यह सुविधा नहीं मिलती |
    Letsdiskuss
    यह बैटरी से चलता है, बैटरी खत्म तो आपका पढ़ना बंद |

    निष्कर्ष

    मेरे लिए Kindle एक वरदान से अधिक अभिशाप है क्योंकि Kindle कभी किताबों की जगह नहीं ले सकता | यदि आप reader हैं तो आपको किताबो की अहमियत पता होगी | आप अपनी किताबो को संझो कर रख सकते है और उन्हें महसूस कर सकते हैं | Kindle एक यन्त्र से अधिक कुछ नहीं है क्योंकि यह किताबो को खुद में संझो सकता है परन्तु एक किताब बन नहीं सकता |


    0
    0

    Picture of the author