Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

Language


asif khan

student | Posted |


प्रदूषण और उसके प्रकार

0
0



प्रदूषण आज एक वैश्विक समस्या बन गया है। प्रदूषण ने हमारी पृथ्वी को पूरी तरह से बदल कर रख दिया है और दिन-ब-दिन पर्यावरण को नुकसान पहुंचा रहा है, जो हमारे जीवन को और कठिन बना रहा है। प्रदूषण के इन खतरनाक परिणामों के कारण कई तरह के जीव और प्रजातियां धीरे-धीरे विलुप्त हो रही हैं।


प्रदूषण के प्रकार


प्रदूषण कई प्रकार का होता है। यहाँ कुछ प्रमुख प्रकार के प्रदूषण हैं:


  • वायु प्रदूषण
  • जल प्रदूषण
  • भूमि प्रदूषण
  • ध्वनि प्रदूषण
  • प्रकाश प्रदूषण
  • रेडियोधर्मी प्रदूषण
  • ऊष्मीय प्रदूषण
  • दृश्य प्रदूषण

वायु प्रदूषण

वायु प्रदूषण को सबसे खतरनाक प्रदूषण माना जाता है, इस प्रदूषण का मुख्य कारण उद्योगों और वाहनों से निकलने वाला धुआं है। इन स्रोतों से निकलने वाला हानिकारक धुंआ भी लोगों के लिए सांस लेने में रुकावट पैदा करता है। बढ़ते उद्योगों और वाहनों ने वायु प्रदूषण को दिन-ब-दिन बढ़ा दिया है। जिसने ब्रोंकाइटिस और फेफड़ों से संबंधित कई स्वास्थ्य समस्याएं पैदा कर दी हैं?


प्रदूषण और उसके प्रकार


जल प्रदूषण

उद्योगों और घरों से निकलने वाला कचरा अक्सर नदियों और अन्य जल स्रोतों में पाया जाता है, जो उन्हें प्रदूषित करता है। कभी स्वच्छ और पवित्र मानी जाने वाली हमारी नदियां आज कई बीमारियों का घर बन गई हैं क्योंकि उनमें प्लास्टिक सामग्री, रासायनिक अपशिष्ट और कई अन्य प्रकार के गैर-जैव-निम्नीकरणीय अपशिष्ट बड़ी मात्रा में पाए गए हैं।


भूमि प्रदूषण

औद्योगिक और घरेलू कचरा जो पानी में नहीं डाला जाता है वह जमीन पर फैल जाता है। हालांकि इसके पुनर्चक्रण और पुन: उपयोग के लिए कई प्रयास किए गए हैं, लेकिन कोई महत्वपूर्ण सफलता नहीं मिली है। ऐसे भूमि प्रदूषण के कारण इसमें मच्छर, तितलियाँ और अन्य कीड़े पनपते हैं, जो मनुष्यों और अन्य जीवों में कई बीमारियों का कारण बनते हैं।


ध्वनि प्रदूषण

कारखानों में चलने वाली तेज आवाज वाली मशीनों और अन्य तेज आवाजों से ध्वनि प्रदूषण उत्पन्न होता है। इसके साथ ही यह सड़क पर चलने वाले वाहनों, पटाखों, लाउडस्पीकरों के फटने से उत्पन्न ध्वनि के कारण ध्वनि प्रदूषण भी बढ़ाता है। ध्वनि प्रदूषण मनुष्य में मानसिक तनाव का मुख्य कारण है, जो मस्तिष्क पर कई दुष्प्रभावों के साथ-साथ सुनने की शक्ति को कम करता है।


प्रकाश प्रदूषण

प्रकाश प्रदूषण किसी क्षेत्र में अत्यधिक और अत्यधिक प्रकाश उत्पन्न होने के कारण होता है। प्रकाश प्रदूषण शहरी क्षेत्रों में हल्की वस्तुओं के अत्यधिक उपयोग के कारण होता है। बिना किसी आवश्यकता के बहुत अधिक प्रकाश उत्पन्न करने वाली वस्तुएँ प्रकाश प्रदूषण को बढ़ाती हैं, जिससे अनेक समस्याएँ उत्पन्न होती हैं।


रेडियोधर्मी प्रदूषण

रेडियोधर्मी प्रदूषण उस प्रदूषण को संदर्भित करता है जो अवांछित रेडियोधर्मी तत्वों द्वारा वातावरण में उत्पन्न होता है। रेडियोधर्मी प्रदूषण हथियारों के विस्फोट और परीक्षण, खनन आदि से उत्पन्न होता है। इसके साथ ही परमाणु ऊर्जा स्टेशनों में कचरे के रूप में उत्पन्न होने वाले घटक भी रेडियोधर्मी प्रदूषण को बढ़ाते हैं।


ऊष्मीय प्रदूषण

पानी का उपयोग कई उद्योगों में शीतलक के रूप में किया जाता है, जो तापीय प्रदूषण का मुख्य कारण है। इससे जलीय जीवों को तापमान में बदलाव और पानी में ऑक्सीजन की कमी जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ता है।


दृश्य प्रदूषण

लोगों का उपयोग करके बनाई गई चीजें जो हमारी दृष्टि को प्रभावित करती हैं, वे दृश्य प्रदूषण के अधीन हैं जैसे कि होर्डिंग, एंटेना, कचरा डिब्बे, बिजली से चलने वाले पोल, टावर, तार, ऑटोमोबाइल, बहुमंजिला इमारतें आदि।


दुनिया के सबसे प्रदूषित शहर

एक तरफ जहां दुनिया के कई शहर प्रदूषण के स्तर को कम करने में सफल रहे हैं, वहीं कुछ शहरों में यह स्तर बहुत तेजी से बढ़ रहा है। दुनिया के सबसे प्रदूषित शहरों की सूची में कानपुर, दिल्ली, वाराणसी, पटना, पेशावर, कराची, सिजिझुआंग, हेजे, चेरनोबिल, बामेंडा, बीजिंग और मॉस्को जैसे शहर शामिल हैं।


इन शहरों में वायु की गुणवत्ता बहुत खराब है और इसके साथ ही जल और भूमि प्रदूषण की समस्या भी दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही है, जिसने इन शहरों में जीवन स्तर को काफी दयनीय बना दिया है। यह वह समय है जब लोगों को विकासशील शहरों के साथ-साथ प्रदूषण के स्तर को भी नियंत्रित करने की जरूरत है




प्रदूषण कम करने के उपाय

अब जबकि हमें प्रदूषण के कारण और प्रभाव और प्रकार पता चल गए हैं, अब हमें इसे रोकने के प्रयास करने होंगे। इनमें से कुछ उपायों को अपनाकर हम प्रदूषण की समस्या को नियंत्रित कर सकते हैं।


  • कार पूलिंग
  • पटाखों को कहें ना
  • रीसायकल / पुन: उपयोग
  • अपने आस-पास को साफ रखें
  • कीटनाशकों और उर्वरकों का सीमित उपयोग
  • पेड लगाना
  • खाद का प्रयोग करें Use
  • प्रकाश का अत्यधिक और अत्यधिक उपयोग न करना
  • रेडियोधर्मी पदार्थों के उपयोग के संबंध में कड़े नियम बनाकर
  • कड़े औद्योगिक नियम बनाकर
  • नियोजित निर्माण द्वारा

निष्कर्ष

प्रदूषण हमारे पर्यावरण को दिन प्रतिदिन नष्ट कर रहा है। इसे रोकने के लिए हम जरूरी कदम उठाना चाहते हैं ताकि इस धरती की खूबसूरती बरकरार रह सके। यदि हम इस समस्या को हल करने की बजाय अनदेखा करते रहे तो भविष्य में हमें इसके घातक प्रभावों का सामना करना पड़ सकता है।