Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

Language



Blog

Abhinav kumar

| Posted on | Education


रामायण में रावण के वध के बाद सूर्पनखा कहां गई?

0
0



आइए आपको बताते हैं कि  रावण  के वध के बाद सूर्पनखा कहां गई? यह जानने के लिए सबसे पहले जानना जरूरी होगा कि सूर्पनखा जैसा कि आपको पता है कि सूर्पनखा रावण की बहन थी। इसी के कारण ही सीता का अपहरण हुआ और रावण का वध हुआ था। राम रावण युद्ध के बाद जब रावण की हार हुई और उसका वध हुआ तो उसके कुल के सभी लोग इस युद्ध में मारे गए थे। लेकिन सूर्पनखा बच गई और वह कहां गई। यह जानना बड़ा दिलचस्प है।

 

बाल्मीकि रामायण के अनुसार रावण के मरने के बाद सूर्पनखा के प्रसंग का कोई जिक्र नहीं आता है। लेकिन कुछ  कथाओं की माने तो रावण से मतभेद होने के बाद सूर्पनखा अधेड़ उम्र में उसने अपने मर्जी से विद्युतजिह्वा  के साथ विवाह कर लिया था। जो राजा कालकेय सेनापति था।  आपको बता दें कि एक युद्ध में रावण ने सूप नखा के पति को मार दिया था इसके बाद सूप नखा रावण से नफरत करने लगी थी। इस तरह की कहानियां प्रचलित है। इसके बाद विधवा के रूप में सूपनखा पंचवटी और दक्षिण के जंगलों में अपना बचा हुआ जीवन बिताया। 

 

एक दूसरी प्रचलित कथा के अनुसार रावण के युद्ध में मारे जाने के बाद सूर्पनखा पंचवटी और दक्षिण के जंगलों में रहने लगे और वहां तपस्या करके अपने जीवन का प्रायश्चित किया।

 

सूर्पनखा के बारे में

 

    • सूर्पनखा रावण की सगी छोटी बहन थी।
    •  सूर्पनखा बदसूरत और अपना रूप बदलने में माहिर थी।
    • श्रीराम के सुंदरता पर मोहित होकर उनसे विवाह का प्रस्ताव रखा था। श्रीरामचंद्र जी ने विनम्रता पूर्वक उनके इस आग्रह को ठुकरा दिया। यही प्रस्ताव लेकर सूपनखा लक्ष्मण के पास गए लक्ष्मण ने भी मना कर दिया। 
    • क्रोध में आग बबूला सूर्पनखा ने सीता पर हमला कर दिया और यह देखकर लक्ष्मण ने तुरंत सूर्पनखा की नाक-कान काट दिए।  
  • अपने इस अपमान का बदला लेने के लिए सूर्पनखा ने अपने भाई रावण से शिकायत की और उसे भड़काया, जिस कारण से सीता का अपहरण हुआ। 
  • इसका परिणाम यह हुआ कि सूर्पनखा के कारण रावण का अंत हुआ। इसलिए कहा जाता है कि रावण के अंत का कारण सूर्पनखा बनी।