चाय को हिंदी मे क्या कहते है? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

Language



Blog
Earn With Us

Setu Kushwaha

Occupation | Posted on | Education


चाय को हिंदी मे क्या कहते है?


23
0




| Posted on


चाय को हिंदी में चाय ही कहते हैं लेकिन चाय चीनी भाषा का शब्द है। कई विदेशी शब्दों को हिंदी में हूबहू स्वीकार किया गया है। जैसे स्कूल, ऑलपीन कारतूस लोग आदि। चाय पत्तियों का उबला हुआ काढ़ा होता है। चाय को दुग्ध शर्करा जल और पहाड़ी पत्तियों से उबला हुआ काढ़ा कह सकते हैं। वैसे काफी को कहावा कहते हैं। चाय पीने की परंपरा भारतीयों में नहीं रही है। इसलिए इसका कोई हिंदी शब्द नहीं है।

Letsdiskuss

और पढ़े- चाय पीने से कौन सी बीमारी होती है?


13
0

| Posted on


चाय एक ऐसा पेय पदार्थ है जिसे हर एक इंसान पीना पसंद करता है। चाय का आविष्कार चीनी से हुआ है चाय एक चीनी भाषा है। वैसे तो चाय को आम भाषा में चाय ही कहते हैं। क्योंकि चाय का आविष्कार हमारे भारत देश में नहीं हुआ है इसलिए इसका कोई हिंदी शब्द नहीं है। लेकिन हम चाय को दुग्ध जल मिश्रित शर्करा युक्त पर्वतीय बूटी भी कहते हैं। चाय को दूध से मिलाकर बनाया जाता है। भारत के हर घरों में दिन की शुरुआत चाय पीने से की जाती है। और चाय को अंग्रेजी में टी बोलते हैं।Letsdiskuss


12
0

| Posted on


क्या आप जानते हैं कि चाय को हिंदी में क्या कहते हैं आज हम आपको इस आर्टिकल में बताते हैं कि चाय को हिंदी में क्या कहते हैं चाय को हिंदी में चाय बोलते हैं। चाय का आविष्कार हमारे भारत देश में नहीं हुआ है इसलिए इसका कोई हिंदी शब्द नहीं है। चाय को दूध सरकार जल और पहाड़ि पत्तियों से उबला हुआ कड़ा कर सकते हैं चाय पीने की परंपरा भारतीयों में नहीं रही है। इसलिए इसका कोई हिंदी शब्द नहीं है। चाय को अंग्रेजी में tea कहते हैं। जोड़ों के दर्द के लिए चाय पीना लाभकारी सिद्ध हो सकता है। चाय सबके दिल की धड़कन होती है। अगर सुबह चाय नहीं मिलती पूरा दिन खुद को लोग ऊर्जा वान नहीं महसूस करते हैं। चाय शब्द की उत्पत्ति एक भारतीय के भाषा चाय से हुई है जोकी चीन भाषा के शब्द च से मिलता जुलता है।।Letsdiskuss


12
0

| Posted on


दोस्तों हमारे भारत देश में बहुत से लोगों अपने दिन की शुरुआत चाय के साथ ही करते हैं बहुत से ऐसे भी लोग होते हैं यदि वे चाहे ना पिए तो वह खुद को ताजा महसूस नहीं करते हैं लेकिन आज यह भी हम आपको बता दें कि बहुत से लोगों को यह पता नहीं होगा कि चाय को हिंदी में क्या बोला जाता है तो आज इस पोस्ट में हम आपको बताएंगे तो चाय को हिंदी में दुग्ध जल मिश्रित शर्करा युक्त पर्वतीय बूटी बोला जाता है। इसका अर्थ दूध,पानी और शर्करा के मिश्रण को चाय पत्ती के साथ बनाना। चाय को हिंदी में टी कहा जाता है। चाय पीने के कुछ फायदे भी होते हैं यदि आपको नींद आ रही है तो आप चाय पी सकते हैं आपने बहुत लोगों को कहते सुना होगा कि मेरा सिर दर्द कर रहा है चाय पीने से सर दर्द की समस्या दूर हो जाती है।

Letsdiskuss



9
0

| Posted on


चाय को हिंदी मे चाय ही कहते है, और चाय को इंग्लिश tea कहते है। आज कल चाय पिने के लोग ज्यादा शौकीन हो गए है, ज्यादातर लोग दिन मे 4से 5बार चाय पीते है क्योंकि चाय पिने से ह्रदय रोग का जोखिम काफ़ी हद तक कम हो जाता है।

इसके अलावा कैंसर से बचाव के लिए चाय काफ़ी हद तक फायदेमंद साबित हो सकती है, क्योंकि चाय में पॉलीफेनॉल्स तत्व पाए जाते हैं, जो ट्यूमर कोशिकाओं को फैलने से रोकते है जिससे कैंसर होने का खतरा काफ़ी हद तक कम हो जाता है।

50 से 60वर्ष के बुजुर्गो को गठिया वात हो जाता है, वह बहुत सी अंग्रेजी दवाइयाँ खाते है फिर भी उन्हें आराम नहीं मिलता है तो ऐसे वह घरेलु नुस्खे अपना सकते है जैसे कि काली चाय मे अदरक डालकर काली चाय यानि ब्लैक टी पिने से गठिया वात से छुटकारा मिलेगा, क्योंकि ब्लैक टी मे एंटी-इंफ्लेमेटरी तत्व पाया जाता है तो गठिया वात को धीरे -धीरे जड़ से खत्म करने मे सहायक होता है।Letsdiskuss




8
0