हृदयाघात (हार्ट अटैक) से लोग एक झटके में ही क्यों मर जाते हैं ? - letsdiskuss
Official Letsdiskuss Logo
Official Letsdiskuss Logo

Language



Blog

sahil sharma

| Posted on | Health-beauty


हृदयाघात (हार्ट अटैक) से लोग एक झटके में ही क्यों मर जाते हैं ?


13
0




| Posted on


अक्सर देखने को मिलता है कि ऐसे बहुत से लोग होते हैं जिन्हें हार्ट अटैक आता है और एक झटके में ही उनकी मृत्यु हो जाती है। आखिर ऐसा क्यों होता है चलिए हम आपको इसके पीछे का कारण बताते हैं।

चलिए जानते हैं कि आखिर लोग हार्ट अटैक के एक झटके में ही क्यों मर जाते हैं:-

दोस्तों हार्ट अटैक में एक झटके में मृत्यु होने का कारण अक्सर यह होता है कि हृदय की एक धमनी में ब्लड क्लॉट बंद हो जाता है। जिससे हृदय को पर्याप्त ऑक्सीजन और पंपिंग ब्लड सप्लाई की कमी हो जाती है। यदि ब्लड क्लॉट बड़ा हो और हृदय की धमनी को पूरी तरह से बंद कर दे तो हृदय का एक हिस्सा बिना ऑक्सीजन के रह जाता है। जिससे उसका हिस्सा मर जाता है इससे हृदय की क्षमता कम हो जाती है। और यह सामान्य तरीके से पंपिंग कार्य करने में असमर्थ हो जाता है। जिस व्यक्ति की जल्दी मृत्यु हो जाती है।

चलिए जानते हैं कि आखिर हार्ट अटैक से लोगों की मौत एक झटके में कैसे हो जाती है इसके और क्या कारण हो सकते हैं हम आपको बताएंगे:-

  • मैं आपको बता दूं कि हृदय के दाहिने हिस्से में मुख्य धमनी धीरे-धीरे बंद होती है जिससे उसे क्षेत्र में हृदय को ऑक्सीजन नहीं मिल पाती।
  • अचानक से उस धमनी में प्लैक टूट जाता है जिससे रक्त का थक्का बन जाता है।
  • यह थका हृदय की कोशिकाओं तक पहुंच जाता है और उन्हें ऑक्सीजन से वंचित कर देता है।
  • और फिर ऑक्सीजन की कमी से हृदय की कोशिकाएं मरने लगती है और हृदय की कार्य क्षमता कम हो जाती है।
  • और फिर हृदय धड़कने में असमर्थ हो जाता है और मरीज की मौत हो जाती है।

यही वजह है कि हार्ट अटैक में अक्सर एक झटके में मृत्यु हो जाती है।

Letsdiskuss


4
0